Sexsamachar.com
... ...

योगिता रानी को चोद चोद के संभोगिता बना दीया

 हेल्लो फ्रेंड्स… मेरा नाम विवान हे. में 25 साल का हूँ और में गुजरात मे रहता हूँ. में शरु शे हीयह सेक्ससमाचार का रीडर हु. मैं भी कुछ आप लोगो के सात बाटना चाहता हूँ. इसलिए आज मेरे जीवन का यह किस्सा सुनाने जा रहा हूँ।

यह बात है मेरे पडोस मे रहेने वाली नयी नयी शादीशुदा भाभी की. मेरे पडोस मे रहेने आए इस परिवार मे अंकल-आंटी, उनके दो बच्चे, दो बहू थे. उसमे छोटी बहू योगिता एक शोरूम मे सेल्स गर्ल का काम करती थी. योगिता इतनी सुन्दर नही थी. थोड़ी मैने कहा थोड़ी मोटी थी. मुझे उसके बोब्स ज़्यादा पसंद है. मैं कभी भी उसके साथ बात नही करता था. उसके पति के साथ मैं कभी कभी बात कर लेता था. सुबह 9.00 बजे जब मैं जॉब पर निकलता तब ही वो दोनो भी अपनी बाइक पर निकलते. एक दिन की बात है जब जॉब पर जाने को निकाला मैने देखा सोसाईटी के नाके पर योगिता खड़ी थी. मैने पुछा “कहा जाना है?” तो वो बोली “जॉब पर ऑटो की राह देख रही हूँ.”  मैने कहा “क्यू आज तुम्हारे पातिदेव कहा गये आए नही छोड़ने ?” तो बोली “नही आज उन्हे जल्दी जाना था इसलिए वो सुबह 6.00 ही निकल गये.”  मैने कहा “अगर ऐतराज ना हो तो चलो मैं छोड़ देता हूँ.”  वो तैयार हो गयी साथ आने को मेरे पीछे बाइक पर बैठ गयी।

उसके बोब्स मेरी पीठ को छु रहे थे. मैं तोड़ा आगे की और खिसक गया ताकि कोई ग़लतफहमी ना हो. थोड़ी देर बाद मेरी पीठ पर उसके दोनो बोब्स दबकर टच हो रहे थे. 15 मिनट बाद हम शोरूम के बाहर पहुच गये . वो उतरकर बोली “thank u for lift.”  मैने कहा “कोई बात नही.. तुम्हे कोई तकलीफ़ हुई हो तो सॉरी…”  उसने कहा “नही मुझे मज़ा आया मैं कल फिर तुम्हारा इंतजार करूँगी लिफ्ट के लिए…”  इतना बोल कर वो चली गयी. मैं सोच मैं पढ गया. दूसरे दिन जब मैं जॉब के लिए निकला तो देखा वो आज भी खड़ी थी. मैने बाइक उसके पास खड़ी कर दी वो कुछ बोले बिना ही बैठ गयी. आज तोड़ा आगे जाने के बाद ऐसे बैठी की हम दोनो के बीच से हवा गुज़रना मुश्किल था. मैं तोड़ा गर्म भी हो गया था. मेरा लंड टाइट हो गया था।

loading...

शोरुम आया वो उतर गयी बोली “बड़ा मज़ा आया, तुम्हे मज़ा आया?”  मैने कहा “मज़ा कैसा मज़ा ?” तो बोली “वा एक लड़की तुम्हारे पीछे चिपक कर बैठी और तुम्हे मज़ा नही आया?” मैने कहा “वो बात नही तुम मेरी गर्ल फ्रेंड तो नही हो जो मैं मज़ा लू?” वो थोड़ी नाराज़ सी हो गयी दूसरे दिन फिर वो वही खड़ी थी मैं बाइक लेकर निकला वो फिर बैठ गयी.मैने कहा “ आज तो तुम्हारे पति घर ही थे ना तो उनके साथ नही गयी ?”  तो बोली नही मैने उन्हे भेज दिया क्यूकी मुझे तुम्हारे साथ अच्छा लगता है इसलिए…”  शोरूम पर उतरकर उसने कहा “कल मेरी छुट्टी है. अगर तुम मुझे कही घूमने ले जाना चाहो तो मुझे कोई प्रोब्लम नही है..”  और चली गयी।

मैने दूसरे दिन छुट्टी लेली रोज़ की तरह निकला वो खड़ी थी मैने पास जाकर कहा “तुम्हे पता था की मैं आऊंगा ?”  वो बोली “ हां पूरा विश्वास था.. तो बोलो कहा ले जा रहे हो मुझे?”  मैने कहा “जहा तुम जाना चाहो…”  उसने कहा “नही तुम जहाँ ले जाना चाहो.. मैं उसे दूसरे पास के शहर आनंद मे ले गया. वहा जाकर एक होटल मे रूम बुक करने गया वो मुझे देखकर मुस्कुरा रही थी. हम रूम मे गये. मैने पुछा “तुम्हे डर तो नही लग रहा?” तो बोली “डर लगा होता तो तुम्हारे साथ आती ही नही.”  मेरे पास आकर उसने मेरे कंधे पर हाथ रखा और कहा “मुझे पता है तुम मुझे यहा होटल मे क्यू लाए हो लो मैं तुम्हारे सामने हूँ पूरी करो अपनी ख्वाहिश…”  मैने उसके होंठो पर किस कर दिया. वो भी मेरे होंठो को चूस कर रेस्पॉन्स दे रही थी।

हम किस कर रहे थे उतने मे डोर बेल बजी मैने देखा रूम बॉय पानी लेकर आया था. उसने रूम बॉय से कहा टावल लाना. रूम बॉय टावल ले आया. उसने मुझे कहा मैं नहा कर आती हूँ.. मैने कहा “क्या साथ मे नहाए?” वो मुस्कुराकर बाथरूम मे गयी मूड कर देखा मैं समज गया. मैने अपने सारे कपडे उतार दिए बाहर ही. और बाथरूम मे गया. वो ब्रा पेंटी मे खड़ी थी. मैने उसे घूमाकर उसकी ब्रा खोल दी उसके 36 की साइज़ के बोब्स आज़ाद हो गये. मैने पेंटी भी खोल दी वो मेरे सामने नंगी खड़ी थी. मैने उसके बोब्स को सहलाना शुरू किया. उसने मेरे सर को पकड़ कर बोब्स पर रख दिया. मैं निप्पल चूसने लगा. वो मेरे सर मे हाथ घुमा रही थी और बोली “विवान कब से मैं ये चाहती थी की तुम मेरे स्तनो को चूसो सहलाओ मसलो”  वो गर्म हो रही थी. मैने उसकी चूत मे अपनी उंगली डाल कर सहलाने लगा वो उपर नीचे हो रही थी।

मेने शावर चालू किया शावर के नीचे नहाते मे उसके होंठ चूस रहा था. उसके बोब्स दबा रहा था और वो मेरे लंड को सहला रही थी. मेरा लंड टाइट होकर टॉप जैसा हो गया था. 6” लंबा लंड देख वो खुश होकर बोली “विवान आज मेरी योनि की (चूत की) भूख शांत होगी..” मैने उसे साबुन लगाना शुरू किया. साबुन लगाते हुए उसके बोब्स को दबाता सहलाते हुए उसे किस कर रहा था. उसके मुलायम होंठ को किस करते हुए भीगने मे मज़ा आ रहा था. दोनो तरफ आग लगी हुई थी. अब वो नीचे बेठ कर मेरे लंड को अपने दोनो बोब्स के बीच मे दबा लिया. मैने भी अब उसके बोब्स को छेड़ने लगा. थोड़ी देर ऐसा करने के बाद उसने मेरा लंड अपने मुह मे ले लिया और ज़ोर ज़ोर से चूसने लगी।

मेरे मूह से सिसकारिया निकल रही थी. अब मैं झड़ने वाला था. मैने उसे कहा तो उसने अनसुना कर दिया. और मैं उसके मूह मे ही झड़ गया. मेरा पूरा वीर्य वो पी गयी. मेरी और देख उसने स्माइल किया मैने कहा “ योगिता तुम इतनी सेक्सी हो की कच्छा चबा जाने का मन करता है.” उसने कहा मैने मना तोड़े ही किया है जो करना है करो चबाना हो तो चबाओ चोदना है तो चोदो… विवान मुझे मसल डालो आज…” वो मुझे उत्तेजित कर रही थी. मैने उसे गोद मे उठाया और उसकी गीली चूत मे अपना लंड जो अभी झड़ा था डाल दिया और उसे चोदने लगा. वो भी गर्म थी इसलिए उछल उछल कर साथ दे रही थी. 10 मिनट बाद वो झड़ गयी. पर मैं चालू ही रहा वो आहह.. आह.. करते हुए उछल रही थी. मैं शॉट लगाता ही रहा. 10 मिनट बाद वो फिर से झड़ गयी. मैने उसे नीचे उतारा उसकी चूत मे से लंड निकाल कर चूत सॉफ की उसे घोड़ी बना कर शावर के नीचे ही उसकी चूत मे फिर से लंड डाल दिया।

loading...

30 मिनट के बाद मे झड़ने वाला था वो बोली विवान अंदर मत छोड़ना वरना कुछ हो जाएगा तो प्रोब्लम हो जाएगी… मैने कहा अंदर नही छोड़ा तो चोदने का मज़ा ही ही क्या? मैं थोड़ी देर बाद अपनी पिचकारी उसकी चूत मे ही छोड़ दिया. हम लोग नहा कर बाहर आए खाना खाने रेस्टोरेंट मे गये खाना खाया. मैने कहा योगिता मैं तुम्हे कुछ गिफ्ट देना चाहता हूँ तो चलो हम मार्केट जाते है.. हम एक गारमेंट शॉप मे गये वहा से एक सेक्सी आउटफिट लिया हम वापस होटल आए मैने कहा ये पहन कर दिखाओ वो बाथरूम मे गयी. चेंज कर के आई वो आउटफिट मे वो इतनी सेक्सी लग रही थी. लो कट नेक से उसके बोब्स बाहर आने को तड़प रहे थे. मैने उसे अपने उपर खींचा और उसके बोब्स मसलने लगा. किस करते हुए मैने उसे नंगा कर दिया. मुझे उसने नंगा कर दिया. उसे बेड पर लिटा कर उसके उपर आकर में उसके होंठो को चूस रहा था।  उसके बोब्स को दबाने लगा उसने कहा विवान चोदो मुझे आज जिभर जाए उतना चोदो…”  में उसकी चूत चाटने लगा वो उसके बोब्स सहला रही थी उसकी आँखें बंद थी वो आआआ…हम्म कर रही थी. मैने अपनी जीब पर उसकी चूत का रस महसुस किया. उसने मुझे उपर खिचना चाहा मैं उपर आकर उसके होंठ चूसने लगा. मैने अपना लंड उसकी चूत मे डाल दिया उममम.. करके उसकी आवाज़ मेरे मूह मे ही दब गयी. मैं उसे चोदने लगा चोदते चोदते मैं उसके बोब्स दबा रहा था. वो बोली “विवान चोदो और ज़ोर से चोदो मुझे आज मैं पूरी तरह सेक्स का आनंद लेना चाहती हूँ चोदो मुझे… मसल डालो मेरी योनि को मेरे स्तनो को मसल डालो निकाल दो इनका पूरा दूध…”  इतना कहकर उसने अपने बोब्स मेरे मूह मे दे दिए और वो अपने हाथो से मेरी पीठ सहलाने लगी।

आँखें बंद करके आआआआ.. म्‍मह.. मज़ा आ रहा है विवान और करो…” ऐसा बोल रही थी. मैं उसे चोद रहा था. 30 मिनट तक मैं उसे चोदता रहा उस दौरान वो 3 बार झड़ी और उसके बाद मे उसकी चूत मे झड़ गया थोड़ी देर उसके उपर सो गया उठा तो मैने देखा मेरा लंड अभी भी टाइट था. मैने कहा योगिता मैं इसका क्या करू उसने कहा इसे तो तुम्हे शांत करना पड़ेगा कुछ भी करके… मैने कहा ठीक हे तुम मेरा साथ दो तो मैं इसे एक बार और शांत करने का ट्राई करता हूँ.. वो बोली- बोलो क्या करू मुहँ मे ले लू की और चोदोगे मुझे? और हंस पड़ी. मैने कहा नही मैं तुम्हारी गांड मे डाल दूँ शायद उसके लिए तड़प रहा हो.. वो घबरा गयी बोली- ना बाबा इतना बड़ा लंड मेरी गांड मे जाएगा तो फट जाएगी दर्द होगा… मैने कहा कुछ नही होगा तुमने तो कहा था की जो चाहे कर लो अब क्या हुआ.. मैं नाराज़ होने का नाटक करने लगा।

वो बोली ठीक है जैसा तुम चाहो मैने उसे घोड़ी बनाके उसकी गांड पर अपना लंड रखा और ज़ोर से धक्का दिया वो चिल्ला उठी. मैं थोड़ी देर रुक गया उसकी आँखों मे आँसू आ गये थे. मैने फिर से धक्का दिया अब पूरा लंड उसकी गांड मे चला गया था. वो बोली “ विवान बहोत दर्द हो रहा है..”  मैने कुछ सुना नही बस में तो उसकी गांड मारने मे व्यस्त था. उस वक़्त मे मतलबी हो गया था. मुझे मेरे आनंद के सामने कुछ नही दिख रहा था. उसका दर्द भी नही. मैं उसकी गांड मारे जा रहा था. वो रो रही थी. मैने कहा “रोती क्यू हो चूत मे डालना था तब तो उछल उछल कर ले रही थी… अब दर्द सहन नही हो रहा ”  मेने उसकी गांड 20 मिनट तक मारी।

loading...

फिर मैने पानी उसकी गांड मे ही छोड़ दिया. जैसे ही मैने अपना लंड गांड से निकाला वो ढेर होकर बेड पर गिर पड़ी और रो रही थी. थोड़ी देर बाद खड़ी हुई मुझे गले लगा लिया कहा “विवान आज तुमने मुझे जो सुख दिया है वो मैं जीवन भर याद रखूँगी..”  हम दोनो वहा होटल से निकल कर घर आए।

आज भी योगिता मुझसे महीने मे 2 बार चुद्वाती है…

धन्यवाद …

 

loading...
... ...