Sexsamachar.com
... ...

पैसा लेकर मेने अपनी चूत चुदवाई

हेल्लो फ्रेंड्स, मेरा नाम अमन है और मै लखनऊ में रहता हु, शुरू से  मुझे चुदाई की स्टोरी पढना पसंद है. लखनऊ बहुत खूबसूरत सिटी है और इससे जयादा खूबसूरत है यहाँ के लोग. मेरा पैशन है यहाँ के लोगो को उनके हेल्थ एंड ब्यूटी के लिए टिप्स देना, सो आई कंसल्ट इन स्किन, हेल्थ, ब्यूटी एंड शेप. आप समझ ही गए होंगे मेरा पैशन.

मेरे पास डेली कई मेल आती है जिनमे लोग अपनी प्रोब्लेम से रिलेटेड इश्यूज कंसल्ट करते है और अपनी तरफ से उन्हें बेस्ट सलाह देने की मैं अपनी तरफ पूरी कोशिश करता हूँ और अब मैं अपनी स्टोरी पर आता हु.

मेरी नज़र में औरत उपर वाले का सबसे खूबसूरत तोहफा है जिसकी हमे कदर करते हुए उसकी ख़ूबसूरती को बरक़रार रखना चाहिए- संगमरमर से तराशा हुआ यह तेरा शफ्फाक बदन, महसूस कर लू तो  प्यार से महक जाता है सारा बदन.

loading...

एक साल पहले की बात है जब मैं इस प्रोफ़ाइल में नया आया था, उस वक़्त मेरे पास एक मेल आई थी जिसमें एक मैडम अपने हस्बैंड के दूर जाते हुए कदम अपनी और वापिस लाना चाहती थी, क्यूंकि उनके हस्बैंड का इन्टेरेस्ट उनकी तरफ से कम हो रहा था. उनकी शादी को ७ साल हो गए थे और उनका एक बेबी था. अक्सर हमारे पास ऐसी लेडीज के मेल्स आते है जो डिलीवरी के बाद अपनी शेप में वापिस आना चाहती है. पर शायद वो थोडा अलग थी.

उन्होंने अपनी प्रॉब्लम मेरे साथ शेयर करी और कहा की शादी के २ साल तक उनके हस्बैंड उनसे बहुत प्यार करते थे, पर आफ्टर डिलीवरी उनके हस्बैंड उनसे दूर खीचने लगे. उसका हम ने उनसे रीज़न पुछा.

तो उन्होंने बताया कि पहले उनका फिगर काफी अच्छा था पर आफ्टर प्रेगनेंसी उनका फिगर डल हो गया, हिप्स बड़े हो गये थे और बूब्स लटक गए थे.

आफ्टर ब्रैस्ट फीडिंग इसके लिए हमने उनको कुछ एक्सरसाइजेज एंड मसाज़ स्टेप्स सजस्ट  किये और एक महीने बाद बताने को बोला. तकरीबन ४५ दिन बाद उनकी मेल आई.

उन्होंने मेल में पहले थंक्स बोला और उस बीच आई प्रॉब्लम शेयर की. उनकी एक्सरसाइज की वजह से उनके हिप्स को तो शेप मिल गयी थी पर बूब्स अभी भी लटके हुए थे. उन्होंने मुझे अपने घर पे आने के लिए ऑफर किया.

loading...

ताकि मैं उनको डेमोन्सट्रेशन ऑफ़ ब्रैस्ट मसाज़ दे सकू. मैंने पहले उनको काफी मना किया पर वो नहीं मानी. फिर मैंने हां बोल दिया और नेक्स्ट डे सैटरडे था तो मैंने सोचा आज उनके घर हो आता हु ताकि सन्डे फ्री रह सकू.

सो मैंने ऐसे ही किया, मैं नेक्स्ट डे यानी सैटरडे उनके बताये एड्रेस पर पंहुचा और डोर बेल रिंग की तो एक मेड निकली. उन्होंने मेरा नाम पुछा, तो मैंने अपना कार्ड उनको दिया और उन्होंने अपनी मैडम से बोला. मेरा कार्ड देखते ही उन्होंने मुझे ड्राइंग रूम में बैठने को कहा. मैं ड्राइंग रूम में उनका वेट कर रहा था , तो थोड़ी देर में उनकी मेड आई और वाटर सर्व किया. शायद उनके घर में उस वक़्त और कोई नहीं था, उनके हस्बैंड भी नहीं.

मैंने पानी पिया और ड्राइंग रूम में खूबसूरत सी आर्ट देखने लगा. काफी खूबसूरत था उनका घर. इतने में मैडम आ गयी और उन्होंने मुझ से मेरे बारे में पुछा. मैंने भी उनको कम्फरटेबल फील करने के लिए पहले इधर उधर की बाते की जैसे आपका घर बहुत खूबसूरत है, आपका बेबी कैसा है वैगेराह- वैगेराह और फिरजब मुझे लगा वो अब बात करने के लिए रेडी है, फिर मैंने उनसे कहा की बताइए आप मुझसे क्या प्रॉब्लम शेयर करना चाहती है.

उन्होंने अपनी प्रॉब्लम शेयर करनी शुरू की. उन्होंने बताया के जो एक्सरसाइजेज मैंने उन्हें सजस्ट की थी, उन्हें उससे काफी बेनिफिट मिला है, उनकी शेप काफी बेटर हुई है. पर ब्रैस्ट थेरेपी खुद से न कर पाने की वजह से वो परेशांन थी और उनके ब्रैस्ट ही उनके लिए सब से बड़ी प्रॉब्लम है. अब तो उन्हें बाहर जाने भी अजीब लगता है.  उन्होंने कहा आज आप मुझे एक बार डेमोंन्सट्रेशन दे दें, तो कल से मैं अपनी पार्लर गर्ल से बोल दूंगी.

sexsamachar, Hindi Sex Stories, Indian Sex Stories, Hindi Font Sex Stories, Desi Chudai Kahani, Free Hindi Audio Sex Stories, Hindi Sex Story.

पहले तो मैंने उन्हें समझाया की आप को लो फील करने की जरुरत नहीं है. आप बहुत खूबसूरत है और सब ठीक हो जायेगा. फिर मैंने कहा ठीक है, अब जैसा मैं करू वैसा आपको ४५ दिन तक १५ मिनट के लिए डेली करना होगा. इससे आपके बूब्स को शेप और टाइटनेस मिलेगी और आपकी बॉडी शेप फिट और अटरक्टीव दीखेगी. उन्होंने कहा ठीक है आप बताते जाइये मैं उसे फॉलो करती जयुंगी.

मैंने उनका और टाइम जयादा ना लेते हुए उनसे कहा मैडम आप कोई लूज शर्ट पहन पहन ले, वो ड्रेसिंग रूम में गयी और अपने हस्बैंड की लूज़ शर्ट पहन ली और साथ में लूसे लोअर भी. मैंने उनसे मसाज़ आयल लेन के लिए कहा. पर उन्होंने वो पहले से ही वही रखा हुआ था. फिर मैंने उन्हें बताना शुरू किया कि इस थेरेपी मैं निप्प्लस को एक हाथ से उठा कर बूब्स के डाउन साइड आयल से मसाज़ करना होता है मतलब बूब्स के निचे वाले पार्ट पर मसाज़ करना है.

मैंने उनसे उनके फिगर के बारे में पुछा, तो उन्होंने बताया बिफोर डिलीवरी ३४ ब्रैस्ट और वेस्ट ३८ था और अब ३२ ब्रा भी लूज़ आती है.

फिर मैंने उनसे शर्ट रिमूव करने के लिए कहा, उन्होंने शर्ट रिमूव कर दी. अन्दर उन्होंने रेड कलर की ब्रा पहनी हुई थी फोम कप वाली. मैंने उनसे कहा कि आप अपनी ब्रा भी रिमूव कर दीजिये.

अब मैंने उनसे कहा कि आप अपने हाथो से निप्पल्स को उठाइए, उन्होंने निप्पल उठाया तो बूब भी साथ में उठा. फिर मैंने मसाज आयल बूब के पास लगाया और हाथ में भी लिया और धीरे- धीरे बूब के डाउन साइड में मसाज़ करने लगा.

ऐसा १० मिनट तक किया, काफी टाइम बाद किसी मेल के हाथ मैम के जिस्म पे लगे थे शायद इसलिए, वो सिसक उठी और एक हलकी सी आवाज़ में चुभन भरी आह… निकली. पर अपने प्रोफेशन पे कंसन्ट्रेट रखते हुए उसी तरह दुसरे बूब पे मैंने सेम किया. मैम अंदर ही अंदर मचल रही थी.

पर उन्होंने ज़ाहिर नहीं होने दिया. फिर मैंने उसने कहा दूसरी थेरेपी है माउथ एयर थेरेपी जो आपको करनी है. माउथ एयर थेरेपी  के लिए मैंने उनसे थोडा हनी मंगाया और उस हनी को निप्पल्स पे लगाया और छोड़ दिया और बूब्स मसाज़ करता रहा.

२ मिनट बाद मैंने उनके निप्पल्स को अपने माउथ में लिया और काफी देर तक निप्पल को सक करते रहा और माउथ एयर थेरेपी देता रहा. मैम काफी एक्साइट फील करने लगी थी और मेरे बालों को कस के पकडे हुए थी.

मैं भी धीरे- धीरे एक्साइट होने लगा था. मैम ने मुझ से एक सवाल पुछा जिसके बाद मैं सोचने पर मजबूर हो गया, उन्होंने मुझ से पुछा सर क्या आपने पहले कभी चुदाई की है.

तो मैंने कहा जिस तरह मैं चाहता हूँ वैसे अब तक नहीं किया.

उन्होंने मुझ से पुछा की आप किस तरह चुदाई करना पसंद करते हैं.

मैंने उनसे मुस्कुराते हुए कहा सेक्स इस आर्ट एंड आर्ट इस माय पैशन.

उन्होंने मुझसे कहा- क्या मैं आपके इस पैशन का पार्ट बन सकती हूँ.

मैंने कहा यु आर माई क्लाइंट एंड आई ऑलवेज गिव रेस्पेक्ट टू मै क्लाइंट.

फिर उन्होंने कहा आपने यह भी कहा की क्लाइंट सटिसफकशन आपकी पालिसी है. लेकिन मैं तो अभी तक अनसटिसफाई हूँ. प्लीज सटिसफाई मी, क्यूंकि उनको छुने के बाद मैं भी अपनी फीलिंग्स को कण्ट्रोल किये हुए था. तो थोडा सोचे के बाद मैंने कहा ठीक है, आप जाइये फ्रेश हो जाइये और ब्लैक साड़ी और रेड अंडरर्गार्मेंट्स पहन कर आइये तब तक मैं कुछ प्लान करता हूँ. मेरे कहने पर उन्होंने ब्लैक सारी और रेड ब्रा पेंटी पहन ली और जब तक वो आई मैंने बेडरूम की सारी तैयारिया कर ली थी.

बेड के आस पास रूम स्प्रे किया. बेड पे रोज पेटल्स डाल दिए एंड सॉफ्ट म्यूजिक प्ले कर दी. थोड़ी देर बाद वो भी रूम में आ गयी और जैसा मैंने सोचा था उनको लेकर वो उससे भी जयादा खूबसूरत लग रही थी. जैसे चाँद को साड़ी में लपेट दिया हो. वो बहुत खूबसूरत लग रही थी. शायद जिसके साथ मैंने कभी कुछ करने की कल्पना करी हो उससे भी जयादा खूबसूरत.

मैंने अपने अंदाज़ में सब से पहले उन्हें अपने पास खड़ा किया और कान के पास एक किस किया जिससे वो और मचल उठी, फिर मैंने उनके माथे को चूमा, फिर धीरे से आँखों पे सजी पलकों को चूमा, दोस्तों सेक्स थेरपिएस में ३ ख़ास तरीके होते है.

जिन्हें मैं अपने अंदाज़ में ही करता हूँ, अंदाज़ तो आप लोगो से शेयर नहीं कर सकता पर तीनो थेरपिस ज़रूर बता सकता हूँ.

फर्स्ट है- लिप किस्सिंग.

सेकंड- निप्प्लेस सकिंग और थर्ड – पुसी सकिंग

इन तीनो थेरपिस को मैंने अपने पूरे पैशन के साथ करता हूँ और वो बिलकुल डिफरेंट अंदाज़ में.

फिर मैंने अहिस्ता अहिस्ता साड़ी का पल्लू अपनी और खिंचना शुरू किया और साड़ी रेमूव कर दी, फिर ब्लाउज के हुक खोलते हुए गर्दन से लेकर पीठ तक चूमना शुरू किया और ब्लाउज को रिमूव कर दिया.

अब वो सिर्फ रेड ब्रा और पेटीकोट में थी, और हम दोनों ही पूरे मूड में आ चुके थे. शायद उनको भी चुदाई करे हुए काफी टाइम हो चूका था अपने हस्बैंड के साथ. वो भी मेरा पूरा साथ दे रही थी. फिर मैंने अपने दांतों से उनके पेटीकोट को ऊपर उठाते हुए पैरो को चूमना शुरू किया और जांघो तक चूमता हुए आगे बढा, और हाथो का इस्तेमाल किये बगैर पेटीकोट की रिबन दांतों से खिंच ली. अब वो सिर्फ रेड ब्रा और पेंटी में थी.

फिर मैंने धीरे धीरे किस करते हुए ब्रा की स्ट्रिप खोल दी. अब वो मेरे सामने सिर्फ रेड पेंटी में थी. फिर मैंने अपने अंदाज़ में उनके निप्पल्स को सक करना स्टार्ट किया और करीब ३० मिनट करता रहा और वो सब भी जो मुझे चुदाई में बहुत पसंद है.

जो मुझे चुदाई में पसंद है वो मै नार्मल टाइम से जयादा करता हु, निप्पल्स  सक करते- करते नाभि पे आया वहां  पर भी किस किया. हम जो जो किस में आगे बढ़ रहे थे. मैम उतनी जयादा एक्साइट हो रही थी.

फिर मैंने उनकी पेंटी उतार दी, वो बिलकुल क्लीन शेव थी जैसा की मुझे पसंद है. मैंने उनकी पुसी पे फिंगर फेरी तो वो मचल गयी. उसके बाद मैंने उनकी पुसी पर लिक करना स्टार्ट किया तो वो एक्साइटमेंट की सारी बायुंडरी तोडती जा रही थी.

ऐसा कुछ लगभग १ घंटे तक चला, फिर उन्होंने मेरा अंडरवियर निकाल दिया और मेरे पेनिस को माउथ मसाज़ देने लगी. और वो भी एसा माउथ मसाज़ जैसा मैंने कभी सोचा नहीं था.

उनके इस पैशनेट स्टेप्स को देख कर मैं और पैशनेट हो गया और फिर उन्होंने मुझे बेड पर लिटा दिया और मेरे ऊपर खुद आ गयी.

loading...

फिर मेरे पेनिस को अपने पुसी में एन्टर करा के खूब देर तक सैर करायी. कई तरह के सेक्स  स्टेप्स अपनाये. क्यूंकि मैंने पढ़ा था की कौन कौन से स्टेप्स से फीमेल को जयादा अच्छा फील होता है. उनके चेहरे से पता चल रहा था कि वो आज कितनी खुश है.

तो मैंने उसी थेरेपी को फॉलो किया और वो स्टेप बाई स्टेप सेक्स स्टेप किये जिससे उनको काफी ख़ुशी और सटीसफक्शन मिला और उनके मुस्कुराते हुए चेहरे को देख कर अच्छा लगा. और सोचा कि एक इंसान ही दुसरे इंसान के चेहरे पर ख़ुशी और ताजगी ला सकता है. बाकी सब चीज़े टेम्पररी सुख देती है पर सेक्स एक ऐसी आर्ट है जो किसी भी इंसान के चेहरे पे हसी  बिखेर सकता है.

बाद में जब उनके घर से निकला उस वक़्त मुझे एहसास हुआ की जो स्माइल उनके चेरे पर थी मुझ से मिलने के बाद वो ही रिवॉर्ड है मेरे लिए मेरे पैशन का ऐसा मुझे फील हुआ.

sexsamachar, Hindi Sex Stories, Indian Sex Stories, Hindi Font Sex Stories, Desi Chudai Kahani, Free Hindi Audio Sex Stories, Hindi Sex Story.

loading...
... ...