Sexsamachar.com
... ...

मे अपने मुँह से तुम्हारा लंड शांत कर दूँगी Kamukta

हाय रीडर्स
मेरा नाम राज है मे इस साइट का रेग्युलर रीडर हूँ। मुझे इसकी सारी स्टोरी पसंद है मे मुरादाबाद मे रहता हूँ ये स्टोरी मेरे पहले सेक्स एक्सपीरियन्स की है मेरी भाभी के साथ ओर यह मेरी फर्स्ट स्टोरी है इस साइट पर अब मे अपनी स्टोरी पर आता हूँ हमारे घर मेरे 3 भाई ओर 1 बहन है बहन की शादी हो गई है ओर बड़े भैया की शादी हो गई है उनसे छोटे भैया अपनी पढाई के लिए दिल्ली मे रहते है ज़्यादातर मे मम्मी पापा ओर भैया भाभी ही घर पर रहते थे ये बात उन दिनो की है जब मे 12वी मे पढ़ता था मेरे भैया की शादी को 2 साल हो गये थे मे ज्यादातर अपनी पढाई मे बिज़ी रहता था इस वजह से मे अपनी भाभी से ज्यादा बात नही कर पाता था.

loading...

sex samachar, Hindi Sex Stories, Indian Sex Stories, Chudai ki Kahani, Gujarati sex story, Kamukta, Suck sex, antarvasna, Hindi sex kahaniya
एक दिन मेरे सारे घरवाले किसी की शादी मे गये थे कुछ दिनो के लिए मे मेरे भैया ओर भाभी ही घर पर रुके थे भैया सरकारी जॉब में है इसलिये वो सुबह ही घर से चले जाते थे घर मे भाभी ओर मे ही रहते थे इसी बीच मे ओर भाभी ज्यादातर बाते करते थे बातो ही बातो मे भाभी के बारे मे बताना ही भूल गया मेरी भाभी का नाम सिमरन है। मेरी भाभी देखने मे सेक्स बॉम्ब है मुझे उनके लिप्स बूब्स और बेक बहुत सेक्सी लगती है मेने एक दो दिन मे देखा की भाभी मेरी तरफ आकर्षित होने लगी थी.
भाभी कभी कभी बातो मे मेरे गालो को पकड़ती तो कभी कभी मज़ाक मे मेरी पीठ पर हाथ मारती उस टाइम सेक्स की समझ ना होने की वजह से मे समझ नही पाया 12वी बोर्ड होने की वजह से मे अपनी पढाई मे बिज़ी रहा ओर मे समझ नही पाया ओर ऐसा ही कुछ दिन चलता रहा ओर मेरी नज़र मे भाभी मेरी प्यास बुझाने वाली नज़र आने लगी फिर घरवाले वापस आ गये ऐसे ही दिन महीने बीतते गये मेने 12वी पास कर लिया ओर बी.सी.ए जॉइन कर लिया बी.सी.ए की पढाई मुझे ज़्यादा कठिन नही लगी ओर मे घर पर ज़्यादा नहीं पढता था इसी बीच अब मे भाभी की तरफ आकर्षित होने लगा भाभी तो पहले से ही मेरी तरफ आकर्षित थी पर मेरे रेस्पॉन्स ना देने की वजह से भाभी खुल नहीं पाई थी.
एक दिन भाभी अपने कमरे मे थी तो मे भी उनके पास चला गया ओर मज़ाक करने लगा मेने मजाक मजाक मे भाभी को क़िस कर लिया तो उन्होने मुझसे कुछ नहीं कहा बस अरे कह कर रुक गई मेने ऐसे ही मज़ाक मज़ाक मे एक दो बार ओर भाभी को क़िस कर लिया तो भाभी कुछ नहीं बोली ओर अपने गाल छुपाने लगी मे जब भी भाभी को किस करने की कोशिश करता भाभी अपने गाल छुपाने लगती मेंने भाभी से कहा भाभी एक किस ओर तो भाभी ने मना कर दिया तो मेने कहा जब तक एक जब तक एक ओर क़िस नहीं दोगी मे नहीं जाऊंगा तो भाभी ने मना कर दिया मे ज़िद पर आ गया तो भाभी मान गई ओर मे क़िस लेकर चला गया अब जब भाभी मुझे अकेले मे मिलती मे उन्हे क़िस करता ऐसे ही किस्सिंग का सिलसिला शुरू हो गया.
एक दिन मे ओर भाभी उनके रूम मे बैठे थे तो भाभी ने मुझसे पूछा की तुम मुझे क़िस क्यो करते हो तो मेने कहा की आप मुझे अच्छी लगती हो भाभी ने कहा तुम्हारी गर्लफ्रेंड अच्छी नहीं है क्या मेने भाभी को इंप्रेस करने के लिए कहा की मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है भाभी ने कहा ऐसा हो ही नहीं सकता की तुम्हारे कोई गर्लफ्रेंड नहीं हो तुम इतने सुन्दर हो मेने कहा कॉलेज मे मुझे कोई लड़की पसंद नहीं है मुझे तो आप बहुत अच्छी लगती हो ओर सेक्सी भी भाभी मुस्कुराने लगी ओर कहा मुझमे तुम्हे क्या सेक्सी लगता है। मेने कहा आपके लिप्स भाभी ओर मेने कहा आपके बूब्स भाभी मुस्कुराने लगी ओर पूछा ओर क्या मेने कहा आपकी बेक तो भाभी हंसने लगी ओर कहा बस करो मेने कहा आप मुझे बहुत सेक्सी लगती हो ओर मेने भाभी के होठो पर क़िस कर लिया ये मेरा पहला किस था भाभी के होठो पर भाभी बोली अरे ये नहीं.

sex samachar, Hindi Sex Stories, Indian Sex Stories, Chudai ki Kahani, Gujarati sex story, Kamukta, Suck sex, antarvasna, Hindi sex kahaniya
मे फिर भाभी के गाल पर क़िस करने लगा तो भाभी ने कहा कोई आ जायेगा तो मे हट गया ओर इस तरह मे कभी भाभी के गाल पर किस करता तो कभी भाभी के लिप्स पर कभी कभी तो मे भाभी की बेक पर हाथ फेरता रहता था भाभी बस मुस्कुरा देती थी ओर मेरी हिम्मत बडती गयी ओर एक दिन मे किचन मे पानी पी रहा था तभी भाभी आ गई तो मेने हिम्मत करके भाभी के गाल पर क़िस करते हुये भाभी के बूब्स को प्रेस कर दिया भाभी चोंक गयी ओर जल्दी से अपने रूम मे चली गयी मे थोड़ा सा डर गया था की कहीं भाभी किसी से कुछ कह नहीं दे पर भाभी ने कुछ नहीं कहा ओर इस तरह से मे कभी कभी भाभी के बूब्स भी प्रेस करने लगा मेने देखा की भाभी भी इसका मज़ा लेती थी उन दिनो गर्मियो का मोसम था ज्यादातर घरवाले छत पर सोना पसंद करते है और मे भी.
भाभी ओर मम्मी नीचे सोती थी क्योंकि भैया रात मे 11-12 बजे तक आते थे क्योंकी ऑफिस मे ज़्यादा काम चल रहा था मम्मी ओर भैया किसी काम से आउट ऑफ स्टेशन चले गये थे पापा भैया भाभी ओर मे ही घर पर बचे थे दिन भर कॉलेज मे रहने से मे थक गया था ओर घर आकर सो गया जब उठा तो घर के काम मे लग गया इसी वजह से मुझे भाभी के साथ टाइम नहीं मिल पाया शाम को मे अपने दोस्तो के साथ घूमने चला गया जब रात मे आया तो भाभी खाना बना कर सोने चली गईं थी मे भी खाना खा कर छत पर सोने के लिए जा रहा था तो पापा ने कहा आज तुम नीचे सो जाओ भाभी नीचे अकेली है तो मे नीचे सोने के लिए चला गया दिन मे सोने की वजह से मुझे नींद नहीं आ रही थी मे टी.वी देखने लगा अचानक लाइट चली गई तो मे बोर होने लगा था.
अचानक मेरे दिमाग मे भाभी के बारे मे याद आया की मे ओर भाभी नीचे अकेले है तब मेने सोचा क्यो ना आज अपनी किस्मत को टेस्ट किया जाये ओर मेने भाभी के रूम के पास जा कर देखा की भाभी गहरी नींद मे सो रही तो मे भाभी के पास बेड पर जा कर लेट गया मे ज्यादातर सोते टाइम सिर्फ़ शॉर्ट पहनता हूँ ओर कुछ नहीं यहा तक की अंडरवेयर भी नहीं पहनता हूँ मेने धीरे धीरे भाभी के बूब्स को सहलाना स्टार्ट कर दिया कुछ देर बूब्स सहलाने के बाद मुझसे कंट्रोल नहीं हो रहा था तो मेने भाभी के कुर्ते को उपर कर दिया भाभी ने ब्रा नहीं पहनी थी ये देख कर मे ओर पागल हो गया.

loading...

sex samachar, Hindi Sex Stories, Indian Sex Stories, Chudai ki Kahani, Gujarati sex story, Kamukta, Suck sex, antarvasna, Hindi sex kahaniya
भाभी दिन भर थकी होने के कारण बहुत थकी हुई गहरी नींद मे सो रही थी ये देख कर ही लग रहा था अब मेने भाभी के एक बूब्स को मुँह मे लेकर चूसना स्टार्ट कर दिया मुझे बहुत अच्छा लग रहा था क्योंकि ये मेरा पहला एक्सपीरियन्स था अब मुझसे कंट्रोल नहीं हो रहा था तो मे भाभी के उपर चड गया ओर ज़ोर जोर से उनके बूब्स चूसने लगा कुछ ही देर मे भाभी की आँख खुल गई ओर उन्होने मुझे अपने उपर से हटा दिया ओर अपने बूब्स को कुर्ते से छुपा लिया
भाभी :- ये क्या कर रहे हो राज.
मे :- भाभी आज आप बहुत अच्छी लग रही थी तो कंट्रोल नहीं हो रहा था.
भाभी :- नहीं राज ये सब इतनी जल्दी नहीं.
मे :- आज नहीं भाभी मुझसे कंट्रोल नहीं हो रहा है.
भाभी :- नहीं राज तुम्हारे भैया आने वाले है.
मे :- अभी नहीं आयेगे क्योंकि अभी सिर्फ़ 10 बजे हुये है.
भाभी :- नहीं राज जाओ ओर जा कर सो जाओ.
मे :- नहीं भाभी आज मे आपको प्यार करके ही जाऊंगा.
भाभी :- नहीं राज प्लीज़ जाओ सो जाओ.
मे :- नहीं भाभी मे आज नहीं सोऊंगा (ये कह कर मेने भाभी को बाहों मे भर लिया ओर किस करने लगा.)
भाभी :- नहीं राज प्लीज़ तुम्हारे भैया आ जायेगे.
मे :- नहीं भाभी आज कोई नहीं आयेगा.
भाभी :- राज आख़िर तुम आज करना क्या चाहते हो.
मे :- आज मे सेक्स करूँगा आपके साथ.
भाभी :- नहीं सेक्स नहीं राज तुम्हारे भैया आ जायेगे.
मे :- देखो भाभी कंट्रोल नहीं हो रहा है.(भाभी को शॉर्ट के उपर से अपना 7 इंच लंबा और 3 इंच मोटा लंड दिखाते हुये जो शॉर्ट मे टेंट बना रहा था.)
भाभी :- जाओ राज इसे अपने हाथ से शांत कर लो.
मे :- नहीं भाभी आज मे इसे अपने हाथ से शांत नहीं करूँगा आज तो इसे आप ही शांत करेंगी.
भाभी :- अच्छा राज मे तुम्हारा लंड अपने हाथ से शांत कर देती हूँ.
मे :- हाथ से तो मे भी अपना लंड शांत कर सकता हूँ तो फिर आपकी क्या ज़रूरत.
भाभी :- अच्छा तो मे अपने मुँह से तुम्हारा लंड शांत कर दूँगी.
मे :- मेने सोचा की आज ये एक्सपीरियन्स भी आज़मा लिया जाए ओर मे राज़ी हो गया.
भाभी :- अपना शॉर्ट उतारो.
मे :- आप अपने हाथो से उतारो (ओर भाभी ने अपने हाथो से मेरा शॉर्ट उतार दिया बाहर आकर मेरा लंड भाभी को सलामी देने लगा मेने देखा मेरा लंड देख कर भाभी का चेहरा लाल हो गया था.)
भाभी :- राज तुम्हारा लंड बहुत ही लंबा ओर मोटा है तुम्हारी बीवी बहुत ही खुश रहेगी (ओर भाभी मेरा लंड मुँह मे लेकर चूसने लगी.)
मे :- आआअहह भाभी ओर प्यार से आआअहह भाभी.
भाभी :- उउन्न्ं आहह.
भाभी मेरा लंड चूस रही थी ओर मे भाभी के बूब्स दबा रहा था मेने देखा भाभी भी गर्म होने लगी थी मे भी बहुत गर्म हो गया था.
भाभी :- बस अब मेरा मुँह थक गया है तुम्हारा लंड चूसते चूसते.
मे :- भाभी बस कुछ देर ओर मे कुछ ही देर मे शांत हो जाऊंगा.
आहह उउउन्न्ञनह
मे :- भाभी जब मेरे लंड से पानी निकले तो सारा पानी अपने मुँह मे ही लेना अपना मुँह हटाना नहीं आअहह मेरा पानी निकलने वाला है.
भाभी :- आआहह उउउहह.
फिर मे भाभी के मुँह मे झड़ गया ओर भाभी ने मेरे लंड का सारा पानी अपने मुँह मे ले लिया ओर मे शांत हो गया कुछ देर बाद मे अपने रूम मे सोने चला गया। आगे की स्टोरी फिर कभी। मुझे आशा है आपको मेरी यह अच्छी लगी होगी.

sex samachar, Hindi Sex Stories, Indian Sex Stories, Chudai ki Kahani, Gujarati sex story, Kamukta, Suck sex, antarvasna, Hindi sex kahaniya

loading...
... ...