Sexsamachar.com
... ...

बीवियों के साथ ग्रुप सेक्स

हैल्लो रीडर्स.. , मेरा नाम राहुल है और मुझे शुरू से ही सेक्सी कहानियाँ पढ़ना बहुत पसंद है और मेरी उम्र 23 साल है Hindi Sex Stories Antarvasna Kamukta Sex Kahani Indian Sex Chudai दोस्तों यह मेरी आज की स्टोरी मेरे अपने घर की है.. जिसमे मेरी बीवी के सेक्स की कहानी है। मेरी बीवी की लम्बाई 5.4 इंच है और उम्र 21 साल है। वो दिखने में गोरी और बहुत सुंदर है जिसे देखकर कोई भी मर्द आहें भरने लगता है और उसकी गांड बहुत गोल है जो कि लचकती है और उसके बूब्स भी बहुत गोल है जैसे कोई सेक्सी फिल्म की हीरोईन हो। उसे भी सेक्स की बहुत चाहत है और वो मुझसे हमेशा ज़्यादा से ज़्यादा सेक्स की मांग करती है।
उसकी चूत भी हमेशा रस से भरी रहती है। मेरी शादी को दो साल हो गये है और में एक प्राईवेट कम्पनी में नौकरी करता हूँ जिसमे मेरी बहुत अच्छी आमदनी है और मेरा घर एक मल्टिपलेक्स में है जिसमे और भी कई लोग रहते हैं। हमारे फ्लेट के सामने एक फेमिली रहती है जिसमे दो कपल्स रहते है.. उनका नाम राज और सोनिया है। उनका अक्सर हमारे घर पर आना जाना होता रहता है और उसकी बीवी मुझे बहुत लाईन मारती है और वो बहुत सेक्सी है। में भी कभी कभी उसको आँख मार देता हूँ.. लेकिन क्या करें? इधर मेरी बीवी और उधर उसका पति बड़ी परेशानी में थे।
फिर ऐसे ही दिन गुजर रहे थे और एक दिन हमने अपने घर पर मेरी बीवी रश्मि के जन्मदिन पर एक छोटी सी पार्टी रखी और उसमे हमने उनको भी बुलाया वो लोग आए और बैठे.. मेरी बीवी पानी लाई तो उसने टेबल पर पानी रखा और झुकी तो राज मेरी बीवी के बूब्स को घूर घूरकर झाँकने लगा.. क्योंकि वो बहुत बड़े गले का ब्लाउज पहनती है.. लेकिन मेरी बीवी ने उससे कुछ नहीं कहा और वो चली गयी। फिर हमारी बातें होने लगी और फिर कुछ देर बाद हम खाने पीने लगे और फिर म्यूज़िक लगाकर हम डांस करने लगे।
तभी राज ने मेरी बीवी का हाथ पकड़कर उसे अपनी जोर से झटके से खींचा और उसकी कमर में अपना एक हाथ डालकर डांस करने लगा और मौका देखकर मैंने भी उसकी बीवी को पकड़ कर नाचना शुरू किया और हम दोनों एक दूसरे से लिपट रहे थे और मेरी बीवी के बूब्स उसकी छाती से टकरा रहे थे। इधर में भी सोनिया की पीठ पर हाथ घुमा रहा था.. ऐसे ही अचानक लाईट चली गयी और मौका देखकर में सोनिया को किस करने लगा और हम दोनों एक दूसरे को लिप किस करते हुए चूमे जा रहे थे और में उसके बूब्स दबा रहा था।
तभी कमरे में अंधेरा होने के कारण राज कह रहा था कि लाईट के आने तक डांस करते रहो.. तो फिर हम दोनों अपने काम में लगे रहे और किसी को कुछ नहीं दिख रहा था। तो मैंने सोनिया के ब्लाउज का एक बटन खोल दिया और बूब्स दबाने लगा और फिर होंठ चूसने लगा और पूरा ब्लाउज खोल दिया। राज और मेरी बीवी के बीच क्या हो रहा था मुझे कुछ भी नहीं पता था। फिर मेरा लंड खड़ा होने की वजह से मुझे सिर्फ रश्मि का गदराया हुआ सेक्सी बदन दिखाई दे रहा और अचनक लाईट आ गयी और हम घबरा गये.. लेकिन हमने जब पलट कर पीछे का सीन देखा तो बहुत दंग रह गये.. राज ने मेरी बीवी का ब्लाउज और साड़ी को पूरा उतार दिया था और वो उसके बूब्स से खेल रहा था और इधर मेरे हाथ भी उसकी बीवी के बूब्स पर थे और हम चारों एक दूसरे को देखकर चुपचाप खड़े रहे। तभी अचानक राज हंसने लगा और बोला कि अरे भाई राहुल रुक क्यों गये शरम छोड़ो और मजे मस्ती करो। तो मैंने भी कहा कि हमे भी रुकना नहीं चाहिए.. मजे करो तो हमारी बीवियों ने कहा कि हाँ यार आज कुछ नया हो जाए और हंसने लगी.. बस फिर क्या था? वो शुरू हो गये और राज ने मेरी बीवी का पेटीकोट भी उतार दिया और रश्मि सिर्फ़ पेंटी में खड़ी थी।

sex samachar, Hindi Sex Stories, Indian Sex Stories, Chudai Kahani, Gujarati sex story, Kamukta,hindi sex kahaniya
वो किसी अप्सरा से कम नहीं लग रही थी। तो राज ने कहा कि यार कहाँ छुपा रखा था यह सेक्सी जिस्म जिसे हर मर्द चोदना चाहता है। मैंने कहा कि हाँ राज मेरी बीवी को सेक्स की बहुत इच्छा है। तो उसने कहा कि हाँ मेरी बीवी भी दूसरे मर्द का लंड लेना चाहती है। तभी रश्मि ने कहा कि हाँ यार एक लंड से चुदवा चुदवाकर बोर हो गये हैं.. आज मौका है कुछ नया करने का.. चलो हम सभी मिलकर मजे करते है.. फिर मैंने सोनिया के पूरे कपड़े उतार दिए और वो नंगी खड़ी थी। तभी मैंने राज से कहा यार तुम्हारी बीवी का बदन तो आग का है.. एकदम गरम और सेक्सी। फिर हम सभी पूरे नंगे हो गये और बेडरूम में गये। वहाँ पर हमने एक ही बेड पर दोनों औरतों को लेटाकर एक दूसरे की बीवी की चूत का रसपान करने लगे।
रश्मि ने अपनी सुंदर जांघे ऐसे फ़ैलाई जैसे एक रंडी अपनी चूत को ग्राहक के आगे फैलाती है और राज उसकी चूत को चूसने लगा.. तो वो अजीब सी सिसकियाँ लेने लगी। फिर इतने में मैंने भी चूत को चूसना शुरू किया तो दोनों की चूतों ने पानी छोड़ना शुरू कर दिया और हम करीब 15 मिनट तक चूत चूसते रहे और वो दोनों दो बार झड़ गई। फिर उन दोनों ने कहा कि हमे तुम्हारा लंड चाहिए.. हमे लंड चूसने दो और दोनों ने एक एक करके लंड चुसवाना चालू किया तो हमारे लंड तनकर खड़े हो गये और मेरा लंड राज के लंड से लंबा था.. लेकिन राज का लंड मेरे लंड से बहुत मोटा था। मेरी बीवी बहुत खुश हुई कि आज उसकी मोटे लंड की इच्छा पूरी होगी और फिर हम दोनों को लेटाकर उनके ऊपर आ गए और उनके होंठ चूसने लगे। फिर हम धीरे धीरे एक एक बूब्स चूसने लगे और दोनों पैर कंधे पर रखकर गांड का भी रस लेने लगे।
हमारी बीवियाँ बहुत तड़प रही थी और उन्होंने कहा कि जल्दी करो और अपना लंड डालो। तो सबसे पहले राज ने मेरी बीवी की चूत पर लंड रखा और एक जोर का धक्का मारा तो मेरी बीवी दर्द से चिल्ला उठी और कहा कि थोड़ा आराम से डालो.. लंड का मुहं अंदर गया। फिर उसने एक और धक्का मारकर पूरा लंड अंदर डाल दिया तो रश्मि जोर से चिल्लाई और कहा कि थोड़ा रूको।
इधर में अपना लंड सोनिया की चूत में डालने लगा और धीरे धीरे मैंने पूरा लंड अंदर डाल दिया। फिर हमने धीरे धीरे धक्के लगाने शुरू किए और हम एक दूसरे की बीवी को पूरे जोश से चोदने लगे। इसके बाद वो दोनों ज़ोर ज़ोर से साँसे ले रही थी.. ओअहह और ज़ोर से चोदो.. निकाल दो मेरी चूत का रस.. पी लो इसको जानेमन.. कितने दिनों से नये लंड के लिए तरस रही हूँ। दे दो मुझे अपना पूरा लंड और लूट लो मेरी जवानी.. यह मेरी बीवी की आवाज थी और वो जोर जोर से चिल्ला रही थी और फिर दोनों छिनालो ने अपना चूत का रस उगल दिया और हमसे लिपट गई.. लेकिन हमने उन्हें चोदना नहीं छोड़ा और हम लगे रहे और कुछ देर बाद हम दोनों ने उनकी चूत में अपना अपना लंड रस उगल कर लेट गये और ज़ोर ज़ोर से साँसे लेने लगे। फिर थोड़ी देर बाद हम लोगों ने उनको पलट कर कुतिया बनाया और उनकी गांड चाटने लगे और वो दोनों फिर से गरम हो गई।

sex samachar, Hindi Sex Stories, Indian Sex Stories, Chudai Kahani, Gujarati sex story, Kamukta,hindi sex kahaniya ,Antarvasna
फिर राज ने मुझसे कहा कि यार राहुल पता है मेरी बीवी को गांड मरवाने का बहुत शौक है। तो मैंने कहा कि मेरी बीवी इस मामले में तो पूरी रंडी है और वो किसी छिनाल की तरह गांड में लंड डलवा लेती है। फिर हम शुरू हो गये.. राज ने मेरी बीवी रश्मि की गांड पर लंड टिकाकर एक जोरदार धक्का मारा तो रश्मि चिल्ला पड़ी और बोली कि धीरे धीरे डालो.. तुम्हारा लंड मेरे पति से बहुत मोटा और दमदार है जो कि मुझे बहुत पसंद है। फिर राज ने पूरा लंड रश्मि की गांड में डाल दिया और चोदने लगा।
मैंने भी सोनिया की गांड मारना चालू कर दिया और दोनों फिर से चुदाई करने लगे और हम चारों पसीना पसीना हो रहे थे और इन दोनों छिनालो के मुँह से सेक्स की सिसकियाँ निकल रही थी और मेरी बीवी चिल्ला रही थी.. अरे मेरे प्यारे राज काश में अपनी सुहागरात तुम दोनों से एक साथ चुदवाकर मनाती तो मेरी लिए वो रात यादगार बन जाती। तो राज ने कहा कि अरे मेरी रांड रानी अब तो में यहीं हूँ और रोज तेरी सुहागरात तेरे ही बिस्तर पर तुझे चोदकर मनाया करूँगा और मैंने भी उसकी बीवी से कहा कि राज मेरे घर में सोएगा और में तुम्हारे घर में और तुम्हे रात भर चोदूंगा। फिर हमारे शरीर अकड़ने लगे और हम दोनों चरम सीमा पर पहुँचने लगे और हमने एक साथ अपना रस उन दोनों की गांड में डालकर उनकी पीठ से लिपट गये और वही बिस्तर पर लेट गये।
अब हम चारों बहुत थक चुके थे और पता ही नहीं चला कि कब हमारी नींद लग गयी। फिर सुबह रविवार को हम 9 बजे उठे और देखा कि सब नंगे ही सो गये हैं और किसी ने कुछ नहीं पहना था.. दोनों औरतों की गांड से हमारा पानी निकल रहा था और हमने फिर एक बार चुदाई की और नहाने चले गये और फिर खाना खाकर फिर दिनभर चुदाई करते रहे। अब में और राज रोज की तरह बीवियाँ बदलकर चुदाई करते हैं।

loading...

sex samachar, Hindi Sex Stories, Indian Sex Stories, Chudai Kahani, Gujarati sex story, Kamukta,hindi sex kahaniya

loading...
... ...